संविधान दिवस का जश्न( celebrate constitution day) भारत 2023

 

constitution day जिस संविधान दिवस के रूप में पालनपुर किया जाता है हमारे देश भारत में हर साल 26 सितंबर को मनाया जाता है 26 नवंबर 1949 को भारत के संविधान को अपना ने की याद में भारत की सभा ने भारत के संविधान को 26 जनवरी 1950 को लागू हुआ था

सामाजिक न्याय और अधिकारिता मंत्रालय ने 19 सितंबर 2015 को नागरिक को के बीच संविधान के मूल्य को बढ़ावा देने के लिए हर साल नवंबर 26 को कांस्टीट्यूशन डे मनाने के लिए भारत सरकार निर्णय को अधिसूचित किया

indi blog

what is constitution day

सलमान और संविधान को अपनाने के लिए संविधान दिवस को देश में पालन किया जाता है यह उसे दिन की वर्षगांठ का प्रतीक है जब किसी भी राष्ट्र का संविधान लागू हुआ था संविधान एक मौलिक दस्तावेज है जो सरकार के सिद्धांतों नियमों और संरचनाओं के साथ-साथ उसके नागरिकों के अधिकारों और जिम्मेदारियां को किन रेखांकित करता है

संविधान दिवस पर अक्सर लोग देश के शासन को आकार देने और लोगों के अधिकारों की रक्षा में महत्व रखता है यह उन सिद्धांतों की सहारा ना करने का समय है जो राष्ट्र के नव बनाने और एक ऐसे ढांचे को महत्व को पहचानते हैं जो सरकार के कामकाज का मार्गदर्शन करता है और नागरिकों को अधिकारों के सुरक्षा सुनिश्चित करता है कोई देश में संविधान दिवस एक राष्ट्रीय अवकाश है और नागरिकों को उनके संविधान और उसके महत्व के बारे में अवगत करने के लिए विभिन्न कार्यक्रम गतिविधियां अर्जित की जाती है |

history of constitution day

दुनिया भर के विभिन्न देशों में मनाया जाने वाला संविधान दिवस आम तौर पर किसी देश के संविधान को अपनाने या उसके संवैधानिक इतिहास में एक महत्वपूर्ण क्षण की याद दिलाता है। उदाहरण के लिए, संयुक्त राज्य अमेरिका में, 17 सितंबर को संविधान दिवस 1787 में अमेरिकी संविधान पर हस्ताक्षर करने का प्रतीक है। भारत में, 26 नवंबर को संविधान दिवस 1949 में भारतीय संविधान को अपनाने का सम्मान करता है।

यह दिन इस पर विचार करने का एक अवसर है इन मूलभूत दस्तावेजों में निहित सिद्धांत और मूल्य, कानून के शासन और लोकतांत्रिक शासन के बारे में जागरूकता और समझ को बढ़ावा देते हैं। विभिन्न देशों की अपनी संविधान दिवस परंपराएं और गतिविधियां होती हैं, जिनमें अक्सर नागरिक शिक्षा और देश की पहचान को आकार देने में संवैधानिक सिद्धांतों के महत्व पर जोर दिया जाता है।

Constitution दिवस कैसे मनाए

how can we celebrate constitution day

दोस्तों परिवार या सहकर्मियों के साथ इकट्ठा होकर भारत के संविधान की प्रस्तावना पड़े और सिद्धांतों पर विचार करें |प्रस्तावना पड़े संविधान दिवस कार्यक्रम संविधान में केंद्रित कार्यक्रम में भाग, ले या आयोजित करें| स्कूल कॉलेज और अन्य शिक्षण संस्थान में अक्सर चर्चा करें| कंपटीशन और संस्कृति कार्यक्रम आयोजित करते रहते हैं |

शिक्षकों की गतिविधियां संविधान से संबंधित शिक्षक गतिविधियों में संलग्न आप संवैधानिक विषय पर क्विज निबंध ,प्रतियोगिता या सेमिनारों का आयोजन करें या उनमें भाग ले | संविधान के विभिन्न पहलुओं ,इसके इतिहास और भारतीय समाज पर इसके प्रभाव पर  जागरूकता ले\ संविधान के महत्व के बारे में जागरूकता फैलाने के लिए सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म का उपयोग करें, संविधान के बारे में प्रासंगिक लेख उदाहरण और जानकारी दें |

नया स्वतंत्रता समानता और बंधुत्व जैसी संवैधानिक मूल्यों को अपने दैनिक जीवन में शामिल करें एक सक्रिय और जिम्मेदार नागरिक बने संविधान दिवस राष्ट्र के शासन और सिद्धांतों को आकार देने मार्गदर्शक दर्शन दस्तावेज का जश्न मनाने का एक अवसर है, यह संविधान में उल्लेखित न्याय स्वतंत्रता सम्मान और भाईचारा के आदर्शों के प्रति हमारी प्रतिबंधकता को नवीकृत करने का एक आवश्यक है

 

Leave a Comment